fbpx

भयंकर से भयंकर कमरदर्द और स्लिप डिस्क का इलाज.!!!

  • अगर आप सर्दियों में कमरदर्द से अक्सर ही परेशान रहते हैं तो इन सर्दियों में ये प्रयोग एक बार ज़रूर अपनाइये। अनेक लोग इस प्रयोग से कमर दर्द से मुक्ति पा चुके हैं। आप भी मुक्ति पा सकते हैं। आइये जाने इस प्रयोग के बारे में।

➡ ग्वार पाठा (Aloe Vera) के लड्डू :

  • सब से पहले आप ग्वार पाठ (एलो वेरा) लीजिये इसको पहले शोध ले। शोध की विधि नीचे बताई गयी हैं। इसका छिलका उतार ले और गुद्दा को कुचल कर बारीक कर ले अब इस में अंदाज़ से आटा मिला ले और इसको देसी घी में भून कर खांड मिला कर हलवा बना ले और 20-20 ग्राम के लड्डू बना ले। ज़रूरत अनुसार तीन से चार हफ्ते तक सुबह खाली पेट खाए। इस से भयंकर से भयंकर कमर दर्द और स्लिप डिस्क में आराम मिलता हैं।
  • ग्वार पाठे के गुणों के कारण ही इस की सब्जी अक्सर गाँवों में बनायीं जाती हैं। ग्वार पाठे के उपयोग से शीघ्र पतन के रोगियों को भी बहुत फायदा होता हैं।

➡ विशेष :

  • ग्वार पाठे के लिए ज़रूरी हैं के इसको ऐसी जगह से लिया जाए जहाँ पर सफाई हो और प्रदुषण से मुक्त स्थान हो, क्युकी इसमें एक गन होता हैं के ये अपने आस पास की सारी गंदगी को खींच लेता हैं जो इस में समाई रहती हैं। जैसे माहोल से इसको लिया जाएगा वैसा ही ये शुद्ध और अशुद्ध होगा।

➡ ग्वार पाठा का शोधन :

  • एक पात्र में गोबर के कण्डे (छाण , जो अक्सर गाँवों में गोबर को सुख से जलने के लिए बनाये जाते हैं) की राख बिछा ले, उस पर ग्वार पाठे को रख दे और इसके ऊपर भी राख बिछा दे। 4 से 6 घंटे रखने के बाद पानी से धो ले, इस प्रकार ग्वार पाठे का शोधन हो जाता हैं।
  • सावधानी : एलो वेरा (घृत कुमारी) गरम प्रकृति का होता हैं, जिस कारण से ये प्रयोग सर्दियों में करना ही उत्तम हैं।

➡ आपको ये जानकारी अच्छी लगे तो शेयर ज़रूर करे ⬅ 

Share:

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!