fbpx

ये है नींद आने का प्राकृतिक स्थाई रामबाण उपाय, इस प्रयोग से नींद ऐसी आएगी की पता भी नही लगेगा कब सवेरा हो गया

➡ अनिद्रा या नींद नही आना :

  • इंसानी शरीर को नींद की उतनी ही जरूरत है जितनी खाने पीने की नींद का ना आना बीमारी का संकेत हो सकता है। इसलिए गहरी नींद में सोने की कोशिश जरूर करनी चाहिए. लेकिन इसके लिए करना क्या चाहिए?
  • कई लोगों को नींद न आने की बड़ी समस्या होती है। जब तक वो सोने की कोशिश करते है तब तक सूर्य उदय हो जाता है। जब सब तरकीबें असफल को जाती है तो नींद की दवा खाने के इलावा कोई रास्ता नहीं होता। लेकिन क्या आप को पता है के यह दवाइयां आप की सेहत को नुक्सान  के सिवाए कुछ नहीं देती ? ये दवाइयां आप के लिए कुछ समय का हल हो सकती है, स्थाई हल नहीं।
  • नींद ना आने के कई कारण हो सकते है जेसे की चिंता, तनाव और या किसी बिमारी का होना जेसे ब्लड प्रेशर या फिर दर्द, लेकिन आज हम आप को स्थाई और सौ प्रतिशत प्रभावी बिना किसी नुकसान का हल बताएँगे। इससे आपको ऐसी नींद आएगी की जिस करवट सोयेंगे उसी करवट सवेरा हो जायेगा अर्थात रात कब ख़त्म हुई और कब सवेरा हुआ आपको पता भी नही लगेगा क्योंकि इस प्रयोग से ऐसी आराम दायक नींद आएगी जो आपको कभी ना आई हो। आइये जानते है इस प्राकृतिक प्रयोग के बारे में। 

➡ नींद ना आने की समस्या का स्थाई और प्राकृतिक हल है केला :

  • केले को वेसे तो हम सब एक फल के नाम से जानते है लेकिन इस के छिलके में Magnesium और Potassium भरपूर मात्र में पाए जाते है। पोटैशियम नीद की कमी को पूरा करता है और मैग्नीशियम मांसपेशियों को शांत करता है।

 ➡ केले की चाय (banana tea benefits) :

  • आप भी सोच रहे होंगे कि चाय में केला डालकर कौन पीता है? पर शायद आपको पता नहीं होगा कि चैन की नींद पाने के लिए बहुत से लोग केले वाली चाय पीते हैं।
  • अगर आपको भी अच्छी नींद नहीं आती है और सोने के दौरान आप बीच-बीच में उठ बैठते हैं तो केले वाली चाय पीना आपके लिए बहुत फायदेमंद है।

➡ आवश्यक सामग्री :

  1. एक केला (organic)
  2. थोड़ी सी दालचीनी
  3. एक छोटा कप पानी का

➡ बनाने की विधि :

  • केले वाली चाय बनाने में मुश्किल से 10 मिनट का समय लगता है। एक छोटा केला ले लें और एक कप पानी में दालचीनी डालकर उसे उबाल लें. जब पानी उबलने लगे तो इसमें केला काट कर छिलके समेत डाल दें. इसे 10 मिनट तक उबलने दें और फिर इसे छानकर पी लें। आर्गेनिक केले का ही इस्तेमाल करें।
loading...
Share:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Content is protected !!