fbpx

होली के रंगो को त्वचा और बालो से छुड़ाने के 6 कारगर घरेलु उपाय, एक बार आजमाये जरूर

  • आज की होली में सजन जी ! इस बार तो आपकी सजनी को आपके सारे रंग फीके लग रहे हैं। आपकी सजनी ने ऐसा रंग लगाने के लिए कहा जो कभी छुटाये न छूटे। सजनी जी प्रीत का रंग तो ठीक है, परन्तु असली मेहनत तभी होती है जब होली का रंग छुटाने की कोशिश करें, लेकिन वो छूटे नहीं।
  • ये रंग आपकी त्वचा को बेहद नुक़सान भी पहुँचा सकते हैं। इस होली इन रंगों से कैसे बचें, ताकि सजन जी के रंग में सजनी रंग भी जाएं और ये होली का रंग हमे नुक़सान भी न पहुचाएं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि होली खेलने से पहले व होली खेलने के बाद किन किन उपायों को अपनाकर हम इन रंगों से बच सकते हैं और अपनी त्वचा को इन रंगों से होने वाले नुक़सान से बचा सकते हैं। होली के दिन रंग-गुलाल में भरपूर मस्ती के बाद त्वचा से इन रंगों को छुड़ाना टेढ़ा काम हो जाता है। ऐसे में त्वचा को बिना नुकसान पहुंचाए, रंगों को छुड़ाने के कुछ आसान उपायों की जानकारी आपके जरूर काम आएगी।

होली का रंग छुड़ाने के लिए 6 कारगर घरेलु उपाय :

  1. केला मैश कर लें और उसमें नींबू का रस मिलाएं। इसे त्वचा पर मलकर छोड़ दें और सूखने के बाद हल्के पानी की छीटे मारकर इसे स्क्रब करें। इससे रंग भी उतर जाएगा और त्वचा की नमीं भी नहीं खोएगी।
  2. बेसन में नींबू का रस व मलाई डालकर पेस्ट बनाएं और त्वचा पर स्क्रब की तरह इसकी मसाज करें। फिर हल्के गुनगुने पानी से धो लें। इससे रंग भी उतर जाएगा और त्वचा पर निखार भी आएगा।
  3. आटा छानने के बाद जो चोकर निकलता है या जौ के आते में दूध मिलाकर त्वचा पर मलें। इससे रंग आसानी से निकल जाएगा।
  4. मसूर की दाल को रात भर भिगोकर रखें और पीसकर उसमें दूध मिलाएं। इस पैक को त्वचा पर लगाकर छोड़ दें और फिर हल्के गर्म पानी के साथ स्क्रब करें।
  5. कच्चे पपीते को पीस लें और इसमें थोड़ा दूध, मुल्तानी ‌मिट्टी और ऑलिव ऑयल मिलाएं। इसे चेहरे व गले पर लगाकर 20 मिनट तक छोड़ दें और साफ कर लें। पैक के साथ रंग भी उतर जाएगा।
  6. बालों से रंग निकालने के लिए दही में बेसन और नींबू का रस मिलाकर सिर की मसाज करें और फिर शैंपू से धो लें। 

होली के रंगों से बचने के अन्य उपाय

  1. त्वचा : दही एक अच्छे क्लींजर की तरह काम करता है। शरीर में जहां जहां रंग लगा हो वहां वहां हल्के हल्के हाथों से दही से मसाज करें। पांच चम्मच गेहूँ का आटा, पांच चम्मच कड़वा तेल और एक चम्मच पानी को मिलाकर उबटन बना लें और इस उबटन को शरीर पर लगाएं। यह उबटन रंग को छुटाता है तथा रूप में निखार भी लाता है। जिनकी त्वचा ऑयली हो, वे आधा चम्मच नींबू का रस, एक चम्मच खीरे का रस और एक चम्मच ठंडे दूध को मिलाकर, इसे अपने चेहरे पर लगाएं और आराम से मसाज करें। फिर इसे 10 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर 10 मिनट बाद रूई के फाहे से साफ़ कर, चेहरे को पानी से धो लें। पका पपीता यह बहुत अच्छा क्लींजर है। शरीर में जहां जहां रंग लगा हो, वहां वहां पके पपीते के टुकड़े को रगड़ लें। रंग गायब हो जायेगा। बेसन, दही, नींबू और एक चम्मच नारियल तेल को मिलाकर एक पेस्ट बना लें। इसे चेहरे और शरीर पर लगाकर हल्के हाथों से रगड़ें और फिर पानी से धो लें। रंग छूट जायेगा।
  2. हाथ पैरों के नाखून : रंग को छुड़ाने के लिए नाखूनों को ठंडे पानी से धोएं। फिर इसमें एक चम्मच बादाम का तेल, दो चम्मच नींबू के रस को मिक्स कर लें। इसमें उंगलियों को डुबोकर दस मिनट के लिए छोड़ दें। फिर नाखूनों को धो लें और शैमोइस लेदर के टुकड़े को नाखूनों पर रगड़ लें। इससे नाखूनों का रंग उतर जायेगा।
  3. सिर के बाल : यदि आप यह चाहते हैं कि होली के बाद आपके बाल पहले की तरह ख़ूबसूरत दिखें और शाइन करें; तो इसके लिए आप एक केले में थोड़ा सा मिल्क पाउडर और थोड़ा सा दूध मिलाकर मिक्सी में ब्लड कर लें। जब पैक पूरी तरह से तैयार हो जाए तो उसमें शहद डाल लें। इस पैक को बालों में लगाकर 20-25 मिनट तक बालों को खुला छोड़ दें और फिर बालों को धो लें। आपके बाल पहले की तरह सिल्की व शाइनी हो जायेंगे। इस तरह होली के बाद रूखे बालों की समस्या से आप बच जाएंगे।

◆आप और आपके परिवार को ऑल आयुर्वेदिक (All Ayurvedic) की ओर से होली की हार्दिक शुभकामनाएँ◆

loading...
Share:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Content is protected !!