fbpx

बस 2 मिनट में पाएं कब्ज व पेट दर्द से निजात, अपनाएँ और शेयर करे

  • खानपान सम्बंधी गलत आदतें जैसे- समय पर भोजन न करना, बासी और अधिक चिकनाई वाला भोजन, मैदा आदि से बनाया गया मांसाहारी भोजन, भोजन में फाइबर की कमी, अधिक भारी भोजन अधिक खाना, शौच को रोकने की आदत, शारीरिक श्रम न करना, विश्राम की कमी, मानसिक तनाव (टेंशन), आंतों का कमजोर होना, पानी की कमी, गंदगी में रहना, मादक द्रव्यों का सेवन, एलोपैथी दवाइयों के दुष्प्रभाव के कारण, भोजन के साथ अधिक पानी पीने, मिर्च-मसालेदार तथा तले हुए पदार्थ जैसे-पूरी-कचौड़ी, नमकीन, चाट-पकौड़े खाने, अधिक गुस्सा, दु:ख आलस्य आदि कारणों से कब्ज हो जाती है।

कब्ज का आयुर्वेदिक उपचार :

  1. कब्ज़ से पीड़ित रोगी को किसी विशेषज्ञ या चिकित्सक की देख-रेख में ही कार्य क्षमता के अनुसार ही दो से तीन तक उपवास रखना चाहिए और ध्यान रखे की इलाज के दौरान केवल छाछ का ही सेवन करें।
  2. उपवास के बाद केला, पपीता, शरीफा और चीकू जैसे- नरम फल ही खाएं।
  3. मरीज को खाने में सुबह और शाम दही-चावल और पके हुए केला ही देने चाहिए।
  4. शिशु को माता द्वारा फल-सब्जि़यों आदि का रस पिलाने से ही कब्ज आसानी से समाप्त हो जाती है। गुलकंद खिलाने से भी इससे निजात पाई जा सकती है।
  5. गुनगुने पानी में शहद की कुछ बूंदे मिलाकर पिलाने से शिशु को कब्ज (गैस) से छुटकारा मिलता है।
  6. माता का दूध पीने से भी शिशु कब्ज की पकड़ में नहीं आते हैं।हींग को पानी में घिसकर नाभि के आस-पास के भाग पर लेप करने से शिशुओं की कब्ज ठीक हो जाती है।
  7. सावां (सामा, एक प्रकार का अनाज) है जिसे उबाल या भूनकर खाया जा सकता है। इससे कब्ज दूर हो जाती है।
  8. गर्भवती स्त्री के कब्ज में और बच्चों की कब्ज में पोय (पोरो, पोई) साग, आहार में लेने से लाभ होता है।

आवश्यक सामग्री :

  1. अदरक का रस 10 मिलीलीटर
  2. शहद 
  3. पानी 
  4. नींबू का रस 2 चम्मच

बनाने व सेवन की विधि 

  1. अदरक का रस 10 मिलीलीटर को थोड़े-से शहद में मिलाकर सुबह पीने से शौच खुलकर आती है।
  2. 1 कप पानी में 1 चम्मच भर अदरक को कूटकर पानी में 5 मिनट तक उबाल लें। फिर इसे छानकर पीने से कब्ज(kabj) दूर होती है।
  3. अदरक, फूला हुआ चना और सेंधानमक मिलाकर सेवन करने से लाभ होता है।
  4. 1 नींबू का रस गर्म पानी के साथ रात को सोने से पहले पी लें। इससे सुबह शौच खुलकर आती है।
  5. नींबू का रस 2 चम्मच और चीनी 5 ग्राम को मिलाकर शर्बत बना लें। 4-5 दिन तक लगातार पीने से कब्ज में लाभ होता है।
  6. नींबू के रस में थोड़ी-सी पिसी हुई कालीमिर्च को डालकर सेवन करने से कब्ज नष्ट हो जाती है।
  7. नींबू के 10 मिलीलीटर रस को 250 मिलीलीटर पानी में मिलाकर सुबह के समय सेवन करने से कोष्ठबद्धता तुरंत समाप्त होती है।
  8. 1 नींबू का रस 1 गिलास गर्म पानी के साथ रात में सोते समय लेने से पेट साफ हो जाता है। नींबू का रस 15 मिलीलीटर और शक्कर (चीनी) 15 ग्राम लेकर 1 गिलास पानी में मिलाकर रात को पीने से पुराना कब्ज कम हो जाता है।
  9. नींबू के रस में सेंधानमक मिलाकर सेवन करने से पेट की बीमारी और गैस बाहर निकल जाती है।
  10. 1 गिलास गुनगुने पानी में 1 नींबू का रस व एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से कब्ज दूर होती है और शरीर का वजन घटने लगता है।

              loading...
              Share:

              प्रातिक्रिया दे

              आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

              error: Content is protected !!