बनाये रखने के लिए जरूरी है कि आप योग के आसन करें, इन्हें करने में केवल 10 मिनट लगेगा।

योग करने के कई फायदे हैं। नियमित योग करने से से आप दिल मजबूत होता है, तनाव से बचाव होता है, याद्दाश्‍त मजबूत होती है, रक्‍तचाप की समस्‍या नहीं होती, वजन नहीं बढ़ता। इसके अलावा सबसे जरूरी बात आपके दिमाग में सकारात्‍मक ऊर्जा का संचार होता है। तो रोज सुबह उठकर इन योगासनों को आजमायें और अपने शरीर को रखें फिट और तंदुरुस्‍त।

बालासन

इस आसन को करने से शरीर की मांसपेशियां मजबूत होती हैं और पेट की चर्बी घटती है। इस आसन को करने के लिए घुटने के बल जमीन पर बैठ जाएं और शरीर का सारा भाग एड़ियों पर डालें। गहरी सांस लेते हुए आगे की ओर झुकें। आपका सीना जांघों से छूना चाहिए और अपने माथे से फर्श को छूने की कोशिश करें। कुछ सेकंड तक इस अवस्था में रहें और वापस सामान्‍य अवस्‍था में आ जायें।

Hair Regrowth Ayurvedic Way Songara All Ayurvedic

भुजंगासन

यह आसन शरीर की अतिरिक्‍त चर्बी को कम करता है और आपके शरीर को लचीला बनाता है। भुजंग को अंग्रेजी में कोबरा कहते हैं और चूंकि यह दिखने में फन फैलाए एक सांप जैसे आकार का आसन है, इसलिए इस आसन का नाम भुजंगासन रखा गया है। इसके लिए पेट के बल जमीन पर लेट जाएं। अब दोनों हाथ के सहारे शरीर के कमर से ऊपरी हिस्से को ऊपर की तरफ उठाएं, लेकिन कोहनी मुड़़ी होनी चाहिए। हथेली खुली और जमीन पर फैली हो। अब शरीर के बाकी हिस्सों को बिना हिलाए-डुलाए चेहरे को बिल्कुल ऊपर की ओर कीजिए, कुछ समय के लिए इस स्थिति में रहें।

उत्‍तानासन

इस आसन का अभ्यास खड़ा रह कर किया जाता है। इस आसन से सिर, कमर पैर एवं रीढ़ की हड्डी का व्यायाम होता है। खड़े रहकर योग का अभ्यास करने के बाद इस मुद्रा का अभ्यास करना विशेष लाभप्रद होता है। इसे करने के लिए सीधे खड़े हो जाएं, सांस लेते हुए हाथों को सिर के ऊपर ले जाएं। शरीर को ऊपर खींचे, कूल्‍हों से शरीर को आगे की ओर झुकाएं। अब सिर और गर्दन को आराम की मुद्रा में जमीन की ओर रखें और कूल्‍हों को ऊपर की तरफ उठायें। इस स्थिति में एक मिनट तक रहें।

त्रिकोणासन

शरीर की अतिरिक्‍त चर्बी घटाने के लिए त्रिकोणासन कीजिए। इसे करने के लिए सीधे खड़े हो जाएं, दोनों पैरों में एक मीटर का फासला रखिये, दोनों बाजुओं को कंधे की सीध में लाएं, कमर से आगे झुके, सांस बाहर निकाले। अब दाएं हाथ से बाएं पैर को स्पर्श करें, बाईं हथेली को आकाश की तरफ रखें, बाजू सीधी रखें, बाईं हथेली की ओर देखें, इस अवस्था में दो-तीन सेकेंड तक रुकें। अब शरीर को सीधा करें और सांस लेते हुए खड़ें हो जायें।

पश्चिमोत्तानासन

पेट की चर्बी घटाने में बहुत मददगार है यह आसन। कब्ज, अपच, गैस, डकार व डायबीटीज में लाभकारी है। इसे करने के लिए पैरों को सामने फैलाकर बैठ जाएं अब हथेलियों को घुटनों पर रखकर सांस भरते हुए हाथों को ऊपर की ओर उठाएं व कमर को सीधा कर ऊपर की तरफ खींचिये। सांस निकालते हुए आगे की तरफ झुकें व हाथों से पैरों के अंगूठों को पकड़कर माथे को घुटनों पर लगायें। यहां घुटने मुड़़ने नहीं चाहिए। कोहनियों को जमीन पर लगाने का प्रयास करें। आंखें बंद कर सांस को सामान्य रखते हुए थोड़ी देर के लिए रोकें, फिर सांस भरते हुए वापस आ जाएं।

इन पांच आसनों के अलावा भी कई योगासन ऐसे हैं जिन्‍हें आप रोज कर सकते हैं। नियमित योग करने से रात में अच्‍छी नींद आती है और तनाव नहीं होता।