fbpx

रोज 1 अंजीर खाने से मर्दाना ताकत तो बढ़ेगी ही जाने और भी फायदे ,पोस्ट शेयर करना ना भूले

अंजीर एक स्वादिष्ट व स्वास्थ के लिए गुणकारी फल है| इसे सुखाकर कर हम मेवे
के रूप में इस्तेमाल करते है| उतना ही लाभदायक भी है। अंजीर के सूखे फल
बहुत गुणकारी होते हैं। अंजीर खाने से कब्ज दूर हो जाती है। अंजीर को
सर्दियों में खाने का विशेष महत्व है। इसमें आयरन काफी मात्रा में होता है।
अंजीर में कई रासायनिक तत्व पाए जाते हैं इसमें पानी 80 प्रतिशल, प्रोटीन
3.5 प्रतिशत, वसा 0.2, रेशे 2.3 प्रतिशत, क्षार 0.7 प्रतिशत, कैल्शियम 0.06
प्रतिशत, फॉस्फोरस 0.03, आयरन1.2 मिग्रा मात्रा में होता है। गैस और
एसीडिटी से भी राहत मिलती है। सूखा हुआ अंजीर हमेशा बाजार में आपको मिल
सकता है।
सूखे अंजीर को उबाल कर बारीक पीस कर गले की सुजन या गांठ पर बाँधा जाए तो
लाभ पहुंचता है। ताजे अंजीर का दूध के साथ सेवन करने से  शक्तिवर्धक होता
है। अंजीर वीर्य वर्धक और मर्दाना शक्ति वर्धक होता हैं, वो लोग जो अपने आप
को कमज़ोर नामर्द या नपुंसक समझते हैं उनके लिए ये वरदान की तरह है।

  • चार अंजीर थोड़े से पानी में चार घंटे भिगोएं, फिर यह पानी और अंजीर एक
    गिलास दूध में उबाल कर नित्य रात को सेवन करें। मर्दाना शक्ति बहुत बढ़
    जाएगी।
  • अंजीर में अमीनो एसिड्स के अच्छे स्रोत होते हैं, जिससे कामेच्छा बढ़ती है। अंजीर खाने से सेक्स स्टैमिना भी बढ़ती है।      www.allayurvedic.orgपाचनतंत्र मजबूती– अंजीर में फाइबर होने की वजह से ये
    पेट के लिए अच्छा है| 3 अंजीर के टुकड़ों में 5 gm फाइबर होता है| जो हमारी
    रोज की जरुरत का 20% है| अंजीर पाचन से जुडी सारी परेशानी दूर करता है|
    मधुमेह के लिए– मधुमेह मतलब डायबटीज वालों के लिए
    अंजीर फाइबर का अच्छा स्त्रोत है| इसमें हल्की मिठास भी होती है जिससे ये
    आपकी मीठा खाने की अतितीव्र इच्छा को कम करता है| अंजीर का कितना सेवन करना
    है यह आप अपने डॉक्टर से सलाह ले|
    कमर व सर्द दूर करे –अंजीर खाने से शरीर में होने वाले दर्दो से आराम मिलता है| अंजीर की खाल का लेप सर में लगाने से सर दर्द दूर होता है|

    हड्डियों के लिए- हड्डियों की कमजोरी दूर करने और उसे
    मजबूत बनाने के लिए शरीर को कैल्शियम की जरूरत होती है। अंजीर शरीर में तीन
    प्रतिशत कैल्शियम की कमी को पूरा करता है जिससे शरीर की हड्डियां मजबूत
    बनती हैं।             www.allayurvedic.org

    खांसी– अंजीर का सेवन करने से सूखी खांसी दूर हो जाती
    है। अंजीर पुरानी खांसी वाले रोगी को लाभ पहुंचाता है क्योंकि यह बलगम को
    पतला करके बाहर निकालता रहता है।

    बवासीर में राहत-बवासीर की बीमारी से बचने के लिए आप
    खाली पेट सुबह के समय अंजीर को गुनगुने पानी के साथ खाएं। कुछ ही दिनों में
    आपको बवासीर से मुक्ति मिल जाएगी।

    पेशाब का अधिक आना-3-4 अंजीर खाकर, 10 ग्राम काले तिल चबाने से यह कष्ट दूर होता है।

    दांतों का दर्द- अंजीर का दूध रुई में भिगोकर दुखते दांत पर रखकर दबाएं।

    मुंह के छाले-अंजीर का रस मुंह के छालों पर लगाने से आराम मिलता है।

Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!