fbpx

एड़ी के असहनीय दर्द को भगाये चुटकियों में, बस आज़माएँ ये आसान सा घरेलु उपाय

एडी का दर्द पैरों की बहुत आम समस्या है और हमारी रोजमर्रा की जिंदगी को बहुत प्रभावित कर जाता है । एडी का दर्द अक्सर एडी और एडी के पीछे ही महसूस होता है किंतु कई बार यह पिण्ड़लियों और पूरे तलवों में भी परेशानी पैदा कर देता है । एडी के दर्द के बारे में बहुत ही रोचक जानकारी Allayurvedicके माध्यम से।यह दर्द अक्सर धीरे-धीरे पैदा होता है और धीरे-धीरे ही जाता है। खासतौर पर सुबह के समय उठने पर ज्यादा महसूस होता है। महिलायें इस दर्द से पुरुषों के मुकाबले ज्यादा परेशान रहती है । इस दर्द के पैदा होने का मुख्य कारण सही जूते चप्पल का प्रयोग ना करना होता है । महिलाओं में ऊँची हील की सैण्डल पहनना इसका मुख्य कारण होता है वही पुरुषों में ज्यादा वजन एवं टाईट जूते पहनने से यह समस्या बढ़ती है । इन सबके अलावा भी बहुत से अलग अलग कारणों से यह समस्या होने लगती है । आईये पढ़ते हैं इस समस्या को ठीक करने के लिये कुछ सही प्रयोग…

एड़ी के दर्द को दूर करने के 6 घरेलु उपाय : 
1. बर्फ का प्रयोग :एडी में दर्द होने पर बर्फ का प्रयोग करना बहुत ही लाभकारी होता है । यह इसका सर्वोत्तम प्राकृतिक उपाय है । बर्फ का प्रयोग करने से एडी के तापमान में कमी आती है और दर्द का अहसास कम हो जाता है और सूजन भी उतर जाती है। 

इस तरह प्रयोग करेंपॉलीथीन के एक पाउच में बर्फ के पॉच-सात टुकड़े डालकर उसका मुँह रबर-बैण्ड़ से बंद कर दें और इस पैकेट को साफ कॉटन के कपड़े में लपेट कर दर्द वाले हिस्से पर 15मिनट के लिये लगायें। एक दिन में4-5बार यह प्रयोग दोहराया जा सकता है। ध्यान रखें कि बर्फ को स्किन पर कहीं भी ज्यादा देर तक सीधे-सीधे नही लगाना चाहिये, ऐसा करने से त्वचा बर्फ की ठण्ड़क से जल जाती है जिसको फ्रोस्ट-बाईट कहते हैं।2. एडी की मालिश :मालिश करना दर्द से राहत के लिये एक सर्वोत्तम उपाय है । यह दर्द से तत्काल राहत देने का काम करता है । मालिश करने से माँसपेशियों को राहत मिलती है , दबाव कम होता है और अकड़न कम होकर खून का संचार सुचारू होता है । दर्द ज्यादा होने पर दिन में कभी भी आप एडी पर मालिश कर सकते हैं । इसके अलावा व्यायाम करने के बाद और सोने से पहले नियमित मालिश करनी चाहिये । मालिश करने के लिये जैतून, नारियल, सरसों अथवा तिल के तेल का प्रयोग किया जा सकता है। 

मालिश इस प्रकार करेंथोड़ा से तेल को हल्का गुनगुना गर्म करके एडी पर लगायें और दोनों हाथों के अंगूठों और अंगुठों के पास की दो उंगलियों से मालिश करें । उंगलियों से मालिश करें और अंगुठों से साईड में दबाव देने का काम करें । यह प्रक्रिया10 मिनट तक दोहरायें। 3. सेंधा नमक का प्रयोग :सेंधा नमक का यह प्रयोग एडी के दर्द में बहुत जल्दी लाभ दे सकता है । यह दर्द सूजन को ठीक करता है । इस प्रयोग में गर्म पानी की भाँप राहत मिलने के स्तर को बढ़ा देती है । 

प्रयोग इस प्रकार हैएक चौड़ी बाल्टी में4-5लीटर सहन होने लायक गरम पानी ड़ालें, ज्यादा तेज गरम ना हो, और इस पानी में4-5चम्मच सेंधा नमक ड़ालें । अब15-20मिनट के लिये अपने पैरों को इस पानी में डुबोकर बैठ जायें । उसके बाद पैरों को पोंछकर एडियों पर कोई कोल्डक्रीम लगा लें और5मिनट तक मालिश करें । दर्द के ठीक होने तक रोज प्रयोग करें।

4. हल्दी का प्रयोग :किसी भी तरह के दर्द के लिये प्राकृतिक उपचार की बात होगी तो उसमे हल्दी का ज़िक्र ज़रूर होगा । क्योकि हल्दी में पाया जाने वाला कुरक्युमिन नामक तत्व दर्द के लिये बहुत प्रभावी औषधि होता है। 

हल्दी का प्रयोग इस प्रकार करें— एक कप दूध में एक चम्मच हल्दी चूर्ण मिलाकर उसको बहुत हल्की आग पर हल्का सा गर्म करें फिर उसमें एक चम्मच शहद मिलाकर पी लीजिये । यह ड्रिंक आप रोज दो-तीन बार पी सकते हैं ।

5. अदरक का प्रयोग :यदि माँशपेशी के खिंचाव के कारण दर्द है तो अदरक का प्रयोग विशेष रूप से लाभकारी होगा । अदरक में दर्द-निवारक गुण पाये जाते हैं साथ ही यह शरीर में खून के प्रवाह को भी शुद्ध करता है। 

अदरक का प्रयोग निम्न प्रकार करें— एक कप पानी में5-7ग्राम अदरक को पकाकर पियें । इसके अलावा अपनी नियमित डाईट में भी अदरक का सेवन करें। 6. सेब के सिरके की सिकाई :आधा कप पानी में चौथाई कप सेब का सिरका मिलाकर उसको हल्की आग पर गर्म करें जब गर्म हो जाये तो साफ सूती कपड़े की चार तह बनाकर उसको इस गर्म मिश्रण में भिगोयें और बाहर निकालकर हल्का निचोड़ दें और एडी पर लपेट दें । हर दो-तीन मिनट के बाद पट्टी को बदलते रहें ।15-20मिनट तक यह प्रक्रिया दोहरायें । यह प्रयोग रोज एक या दो बार किया जा सकता है।

loading...
Share:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Content is protected !!