fbpx

पोषक तत्त्वों की कमी दूर करने का घरेलू उपाय

पोषक तत्वों की कमी | Poshak tatvon ki kami

  • मनुष्य के भोजन में दूध ही एक ऐसा भोजन माना जाता है जिसको आहार शास्त्रियों ने पूर्ण भोजन (कम्पलीट फूड) बताया है। दूध के अन्दर प्रोटीन, कार्बोज, दूध शर्करा, खनिज लवण, वसा और विटामिन आदि मनुष्य के शरीर को पोषण देने वाले तत्व जरूरत के मुताबिक मौजूद होते हैं जिससे शरीर का निर्माण, सरंक्षण और पोषण तीनों ही होते हैं। यह एक पौष्टिक भोजन है जोकि एक नवजात शिशु के लिए बहुत ही लाभकारी है।
  • पशुओं से प्राप्त दूध के अलावा दूध को पाने के दूसरे स्रोत भी है जैसे सोयाबीन,मूंगफली ,तिल, नारियल आदि। आइये जाने इनसे दूध बनाने की विधि और इनके सेवन से होने वाले लाभों के बारे में।

सोयाबीन , तिल और मूंगफली का दूध बनाने की विधि :

  • सोयाबीन की तरह ही अगर आपको तिल, मूंगफली, या जिसका भी दूध बनाना हो पहले उसे 12 घंटे तक पानी में भिगों दें फिर उसे मिक्सी आदि में पीस कर छ: गुना पानी में मिला कर छान लें आपका दूध तैयार हो जाएगा। इसी तरह नारियल की कच्ची गिरी को पीसकर दूध बना सकते हैं। नारियल को पानी मे भिगोने की जरूरत नहीं है।

सोयाबीन दूध के फायदे :

  1. सोयबीन का दूध में अन्दर कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस एवं विटामिन बी´ अच्छी मात्रा में पाया जाता है।
  2. सोयाबीन का दूध बच्चों के लिए हमेशा लाभदायक होता है। यह कोलेस्ट्राल को कम करता है। यह दिल के रोगी एवं हाई ब्लडप्रेशर वालों के लिए काफी लाभदायक है। यह यूरिक एसिड नहीं बनाता है इसलिए गठिया रोग के लिए भी लाभदायक है।
  3. यह दिमाग से जुड़े रोगों, जिगर, कमजोरी, याद्दाश्त, मिर्गी, कमजोरी, हिस्टीरिया, फेफड़ों की बीमारियां, डायबिटीज, खून की कमी, जिगर की खराबी, गुर्दे के रोग आदि में लाभदायक है।
  4. यह अम्लता बढ़़ने के हर रोग में लाभदायक है।
  5. यह कैंसर होने से बचाता है।

तिलों दूध के फायदे : 

  1. इसमें कैल्शियम अधिक पाया जाता है। इसके अलावा इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट विटामिन `बी´, `सी´, `ई´, फास्फोरस, लोहा आदि मात्रा में पाए जाते हैं। प्रकृति ने इसे कई पोषक तत्व प्रदान किये हैं और इससे सभी जरूरी तत्व मिल जाते हैं। इसकी चिकनाई में कोलेस्ट्राल नहीं पाया जाता है।
  2. यह दिमाग की कमजोरी, दांतों की कमजोरी, त्वचा रोग एवं काम करने की शक्ति के लिए बहुत ही लाभदायक है और यह त्रिदोषनाशक है।
  3. इसके अच्छे गुणों की वजह से हवन, तप, पूजा आदि में इसका विशेष महत्व है।

नारियल दूध के फायदे :

  1. इसके अन्दर विटामिन `ए´, `बी´, `सी´, कैल्शियम, लोहा, फास्फोरस आदि खनिज तत्व पूरी मात्रा में पाये जाते हैं।
  2. इसमें अच्छी क्वालिटी के क्षारीय तेल पाये जाते हैं और इसमें प्रोटीन एवं कार्बोहाइड्रेट होते हैं। इससे स्वास्थ्य उन्नत होता है।
  3. इसके उपयोग से कब्ज एवं हर प्रकार की सूजन दूर होती है और छोटे बच्चों में सूखा रोग नहीं होता है।

मूंगफली दूध के फायदे :

  1. इसके अन्दर भी प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, चिकनाई, विटामिन, `ए´, `बी´, कैल्शियम, लोहा, फास्फोरस, आदि पूरी मात्रा में पाए जाते हैं।
  2. यह शक्तिदायक होता है, पाचन तंत्र को ठीक रखता है
  3. दिमाग की कमजोरी को दूर करता है।
loading...
Share:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Content is protected !!