fbpx

खाली पेट दूध में तुलसी की पत्ती डालकर पीने के 7 अद्भुत फायदे जान चौक जाएंगे आप

  • आज के समय में हल्की सी छींक भी आती है, तो हम तुरंत कोई न कोई दवा ले लेते हैं। जिससे आराम तो मिल जाता है, लेकिन इसके साइड इफेक्ट भी हजारों होते है। साथ ही हम दवाओं पर ऐसे निर्भर हो जाते हैं। कि इसको बिना खाएं आपको किसी भी समस्या से निजात नहीं मिल पाता हैं।
  • अगर आपको याद हो तो हमारी पूर्वज कभी भी दवाओं का इस्तेमाल नहीं करते थे, वह आयुर्वेदिक या फिर घरेलू उपायों का इस्तेमाल करते थे। जिससे बीमारियां तो दूर हो ही जाती थी, साथ में कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता था। लेकिन आज के समय में इन्हें कोई मानता नहीं हैं।
  • लेकिन कुछ ऐसे घरेलू उपाए है। जो कि हमेशा से हर घर में इस्तेमाल किए जा रहे हैं। वो है तुलसी का इस्तेमाल। तुलसी एक ऐसी हर्ब है। जिसके काढ़ा बनाकर सेवन करने से सिरदर्ध, सर्दी-जुकाम से तुरंत आराम मिल जाता हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि तुलसी को दूध के साथ मिलाकर पिया जाए, तो कई बीमारियों से आपको निजात मिल सकती है। साथ ही कई बीमारियों से बचाव भी हो सकता हैं। जानिए सुबह खाली पेट दूध में तुलसी मिलाकर पीने के क्या फायदे हैं। साथ ही बनाने की विधि के बारे में। www.allayurvedic.org
  1. कैंसर से बचाएं : तुलसी में कई एंटीबायोटिक और एंटीऑक्सीडेंट गुणों के साथ दूध में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व पाएं होते हैं, जो कि इम्यून सिस्टम मजबूत करते हैं। जिसके कारण आप कैंसर जैसी बीमारी से बच जाएगे। साथ ही रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है। जिसके कारण आपका शरीर हर बीमारी से बच सकता हैं।
  2. डिप्रेशन से दिलाएं निजात : आज के समय में हर कोई किसी न किसी कारण डिप्रेशन में जी रहा हैं। कई लोग तो इतने तनाव में चले जाते है कि सुसाइड तक के बारे में सोच या फिर कर लेते हैं। अगर आपको या फिर आपके आसपास किसी को ऐसी समस्या है, तो उसे दूध में तुलसी डालकर इसका सेवन कराएं। इसका सेवन करने से नर्वस सिस्टम रिलैक्स होता है। इसके साथ ही ये स्ट्रेस के हार्मोंस को कंट्रोल कर डिप्रेशन से बचाता हैं। इसके साथ ही आपके सिर में हो रहे बार-बार दर्द को भी दूर करता है।
  3. अस्थमा संबंधी समस्याओं से निजात : इसका रोजाना खाली पेट सेवन करने से आप अस्थमा जैसी समस्या से भी निजात पा सकते है। तुलसी और दूध में एंटी-बैक्टीरियल गुणों पाएं जाते है। जो कि सासं संबंधी समस्याओं से निजात दिला सकते हैं।
  4. किडनी के स्टोन से दिलाएं निजात : अगर आपकी किडनी में स्टोन हैं तो रोजाना खाली पेट इसका सेवन करें। कुछ ही दिनों में स्टोन गलकर निकल जाएगी।
  5. फ्लू से दिलाएं निजात : तुलसी में मौजूद एंटी-इन्फ्लेमेंटरी तत्वों के कारण ये फ्लू जैसी बीमारी से लड़ने की क्षमता प्रदान करता हैं। जिससे आपको फ्लू कभी नहीं हो सकता हैं। www.allayurvedic.org
  6. दिल को रखे हेल्दी : अगर आपके घर में कोई दिल संबंधी बीमारियों से ग्रसित है, तो उसे रोजाना खाली पेट दूध और तुलसी का सेवन करें। इससे वह जल्द सही हो जाएगा।
  7. मलेरिया से दिलाएं निजात : तुलसी में एंटी-बैक्टीरियल और एंटीबायोटिक गुण पाएं जाते है। जो कि किसी भी तरह के बुखार को सही कर सकता हैं। आयुर्वेद में तो बुखार से पीड़ित लोगों को तुलसी के पत्तों को काढ़ा देने की सलाह दी गई है। बुखार होने पर आधा लीटर पानी में थोड़ी सी तुलसी की पत्तियां और इलाइची पाउडर को मिलाकर उबाल लें। जब यह उबलकर आधा रह जाये तो इसमें दूध और चीनी मिलाकर काढ़ा बना लें। इसे हर दो से तीन घंटे के बाद पीएं। इससे आपको जरुर फायदा मिलेगा।

➡ ऐसे बनाएं दूध और तुलसी का मिश्रण :

  1. सबसे पहले एक पैन में दूध उबाले और उसमें 4-5 पत्तियां तुलसी की डाल दें। इसके बाद इसका सेवन खाली पेट करें।
loading...
Share:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Content is protected !!