fbpx

सफ़ेद मूसली और अश्वगंधा का ये प्रयोग रातों-रात शारीरिक कमज़ोरी को दूर कर देगा, इसका सेवन करने वाला दिनभर बिना रुके काम कर सकता है

आज All Ayurvedic के माध्यम से मैं बात करने जा रहा हूँ, आयुर्वेद के द्वारा दिए गए एक ऐसे मिश्रण के बारें में, जिसका उपयोग करके आप अपनी शारीरिक कमजोरी को पूरी तरह से दूर कर सकते है। वैसे तो आयुर्वेद ने हमे ऐसे नुस्खे दिए है, जिनसे हम अपने शरीर के रोगों को मुक्त कर सकते। 

सफ़ेद मूसली, कौंच के बीज और अश्वगंधा :उन्ही नुस्खों में से एक है सफ़ेद मूसली, कौंच के बीज और अश्वगंधा तीनो का मिश्रण। जब इन तीनो का मिश्रण एक निश्चित अनुपात में मिलाकर बन जाता है, तो ये एक ऐसी शक्तिवर्धक दवा बन जाती है जिसका कोई जवाब नहीं है।वैसे तो सफ़ेद मूसली, कौंच के बीज और अश्वगंधा तीनो ही अपने आप में बहुत अधिक शक्तिवर्धक होते है, लेकिन जब हम इनको आयुर्वेद के अनुसार बताये गए एक निश्चित मात्रा में मिलाकर लेते है, तो इसके परिणाम बहुत ही चमत्कारी होते है।

बनाने की विधि और सेवन का तरिका 

सफेद मूसली, कौंच के बीजों और अश्वगंधा को एक साथ बराबर मात्रा में मिश्री के साथ मिलाकर तथा उसको कूटकर बारीक चूर्ण बना लें तथा एक बोतल या डब्बे में रख लें इसके बाद रोजाना एक चम्मच चूर्ण सुबह और शाम एक गिलास दूध के साथ लें।

इससे होने वाले फ़ायदे 

यह आपकी शारीरिक कमजोरी को दूर करता है। इससे मर्दाना कमजोरी जैसी समस्याएं दूर हो जाती हैं। आपकी में लाइफ़ परफॉरमेंस बहुत अच्छी हो जाती है। इस मिश्रण का कोई साइड इफ़ेक्ट भी नहीं होता है। इसका सेवन करने वाला दिनभर बिना रुके काम कर सकता है।ध्यान रहे लेकिन इसे एक बार में 3-5 ग्राम से ज़्यादा मात्रा में ना लें क्योंकि ज़्यादा मात्रा में लेने पर हो सकता है कि ये आपको कब्ज़ की शिकायत पैदा कर दे।

loading...
Share:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Content is protected !!