fbpx

अगर अभी से थकान आती है तो शुरू कर दें इस चीज का सेवन, सर्दियों में इसकी सिर्फ़ 1 चम्मच काफ़ी है, कमज़ोरी जड़ से मिट जाएगी

  • आज की भाग दौड़ भरी जिंदगी में लोगो का ध्यान अपने खान पान पर नहीं रहता है। ऐसे में लोगो में शारीरिक कमजोरी बेहद आम बात हो गयी है। इंसान कितना भी धनि हो परन्तु शरीर का धन ना हो तो सारा पैसा व्यर्थ हो जाता है। शरीर की कमजबूत बनावट और कमजोरी रहित शरीर एक स्वस्थ व्यक्ति की पहचान मानी जाती है। हम में से कई शरीर की कमजोरी से जूझ रहे हैं। हम आपको आज एक ऐसे उपाय के बारे में बताएँगे जिससे आप बेहद आसानी से अपने शरीर की कमजोरी को दूर कर बलवान बन पाएंगे। इस घरेलू नुस्खे के कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं है और यह तरीका भी बेहद आसान है।
  • जैसा कि आप सब को पता है कि आजकल हमारे दैनिक जीवन का खान पान सही नहीं होने की वजह से मनुष्य जल्दी ही थक जाता है इतना ही नहीं बुजुर्गों के साथ-साथ युवा भी इस श्रेणी में आ गए हैं। युवा भी जल्दी ही थक जाते हैं, थोड़ा सा काम करते ही थकान महसूस करने लग जाते हैं, लेकिन दोस्तो आज हम आपके लिए एक ऐसा नुस्खा लेकर आए हैं जिसका सेवन करने से आपकी थकान नियमित रूप से दूर हो जाएगी। अगर आप हमारे बताए अनुसार इस विधि को काम में लेते हैं तो आपको बहुत ज्यादा फायदे मिलेंगे। तो आइए देखते हैं इस नुस्खे के बारे में।
  • आपने देखा होगा कि अक्सर मजदूर गुड का सेवन करते हैं लेकिन आपने कभी यह सोचा है कि वह गुड़ का सेवन क्यों करते हैं। मजदूर आपसे ज्यादा मेहनत करते हैं लेकिन फिर भी वह थकते नहीं है इसका मुख्य कारण है कि वह नियमित रुप से गुड़ का सेवन करते हैं। तो दोस्तों अगर आप भी सर्दियों में सुबह-शाम गुड के साथ नीचे बताए गये सूखे मेवे अर्थात ड्राई फ़्रूट के साथ सेवन करेंगे तो आपको भी थकान महसूस नहीं होगी।

गुड़ को ड्राई फ़्रूट के साथ तैयार करने का तरिका 

  • एक नारियल की पूरी गिरी साबुत,  250 ग्राम मूंगफली के दाने, सौंफ और सोंठ 10-10रू की लीजिए। जहां गुड़ तैयार होता है अर्थात छोटे कारखाने पर मतलब सड़कों पर आम ही आजकल मिल जाते है। जिसको पंजाबी में बेलना बोलते है। या फिर आप घर पर ही कढ़ाई में 5 किलो गुड ले और हल्का गरम करे जब वह पिघलने लगे तब ऊपर बताई चीज़ें डाल दे। यह पांच किलो गुड़ के लिए काफी है। इसमें अपनी मर्जी से आप सूखे मेवे (बादाम, काजू, अखरोट, पिस्ता,  छुहारा , किसमिस 50-50 ग्राम या इच्छानुसार) मिला सकते है। यह गुड़ खाने के लिए बहुत स्वादिष्ट लगेगा। मेरे कहने पर जरूर तैयार करवाएं फिर आप खाकर ही बताना। भोजन के बाद इच्छानुसार या 1 चम्मच खा सकते है। पाचन शक्ति और ताकत के लिए सबसे अच्छा  है। सर्दियों में तो यह लाजवाब है, रोगों से बचाएगा, शरीर बलवान और ख़ून की कमी दूर हो जाएगी। मधुमेह रोगी इससे परहेज़ करे।

गुड़ का सेवन करने का अन्य तरीका

  1. देसी घी के साथ : अगर आपको साधारण तरीके से गुड खाना अच्छा नहीं लगता है तो आप गुड को बारीक कतर लें और इसमें देसी घी मिला लें फिर इसको आप रोटी पर रखकर खाएंगे तो आपको इसी एनर्जी मिलेगी।
  2. दूध के साथ : शाम को खाना खाते समय आपको गुड़ का सेवन करना चाहिए। इसको आप जब दूध पीते हैं तो उसके साथ-साथ खा सकते हैं। इससे आपका हीमोग्लोबिन का स्तर तेजी से बढ़ेगा और आपको एनर्जी मिलेगी।
  3. छाछ के साथ : आप सर्दियों में सुबह छाछ के साथ भी गुड़ का सेवन करेंगे तो आपको इस से बहुत ही ज्यादा एनर्जी मिलेगी और आपको ऐसे सेवन करने से स्वाद भी आता है और थकान भी नहीं आएगी।

Share:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Content is protected !!