fbpx

प्राकृतिक शिलाजीत के फायदे

शिलाजीत | Shilajit

  • यह १००% प्राकृतिक शिलाजीत एक प्राचीन हर्बल है जिसमें 85 खनिज और तत्व होते है जो मानव शरीर को बेहतर बनाने के लिए जरुरी होते है. शिलाजीत में फुलविक एसिड होता है जो शरीर को खनिजों और तत्वों को सोखने की शक्ति प्रदान करता है. यह एशिया में हजारों सालों से लिया जाता है क्योंकि इसके कई स्वास्थ्य लाभ होते है।

शिलाजीत – यह कैसे बना है

  • भारत और तिब्बत के हिमालय के पहाड़ी क्षेत्रों में कई लाखों वर्षों से पौधों और ऑर्गेनिक पदार्थ चट्टान की परतों में फंस गए थे. पहाड़ों के वजन दबाव और अत्यधिक तापमान की वजह से पौधों में जो परिवर्तन हुआ वो एक ऐसी समृद्ध खनिज के रूप में चट्टानों से बाहर निकला जिसको आज हम शिलाजीत कहते है।

डिब्बी में शिलाजीत की मात्रा

  • 10 ग्राम प्राकृतिक शिलाजीत 

Natural Shilajit | Order now Online | COD Available : https://allayurved.com/products/natural-shilajit

शिलाजीत का सेवन कैसे करे

  • शिलाजीत की खुराक कभी-कभी जिसे हम एक चुटकी खनिज पदार्थ भी कहते है, के बारे में सही दिशा-निर्देशों से ही आपको अधिक लाभ मिलता है. शिलाजीत के अलग-अलग ग्रेड होते है. सही ग्रेड की जानकारी होना आवश्य्क है।
  • शिलाजीत को लेकर हर एक व्यक्ति की अलग राय, अलग अहसास, अलग असर आदि होता है. शिलाजीत के उपयोग के साथ-साथ अच्छी आदतों जैसे व्यायाम, और अच्छी डाइट भी लेनी लेनी होती है।
  • शिलाजीत को सही तरीके से लेने से ही इसका प्रभाव सही होता है. शुरुआत में आप दिन में एक बार लगभग 100 मिलीग्राम ले. उसके बाद धीरे – धीरे खुराक बढ़ा दें. जैसे 100 मिलीग्राम दिन में 2 बार और फिर दिन में 3 बार. इसकी खुराक तब तक लेते रहे जब तक आपको मनचाहे असर न दिखाई देने लगे।
  • शिलाजीत के लेने से पहले वो बातें जो ध्यान में रखकर आपकी खुराक निश्चित की जाएगी. शरीर का आकार– बॉडी मास इंडेक्स — सामान्य स्वास्थ्य– मेटाबोलिज्म — खाद्य और अन्य जीवन शैली — होने वाले फायदे– आपका व्यक्तिगत मॉलिक्यूलर कैमिस्ट

शिलाजीत को खाने को लेकर अलग -अलग विचार है।

  • आयुर्वेद चिकित्सकों के अनुसार, शिलाजीत का प्रभाव बढ़ाने के लिए इसको नीचे लिखे किसी भी एक पदार्थ के साथ मिक्स करके लेना चाहिए।
  • गर्म दूध — घी (मक्खन)—- कच्चा शहद—- नारियल का तेल—- हर्बल चाय—- झरने के पानी।

Natural Shilajit | Order now Online | COD Available : https://allayurved.com/products/natural-shilajit

ठंड में शिलाजीत का सेवन

  • ठंड में यदि आप आपनी ऊर्जा, क्षमता और शक्ति को बढ़ाना चाहते है तो यही मौसम सबसे अच्छा है इसके सेवन का जो आपका तंदुरुस्त जीवन जीने का अहसास कराएगा।

शुद्ध और असली शिलाजीत की पहचान 

  • शिलाजीत लेने से पहले उसकी असली और नकली की पहचान होना जरुरी है. बाजार में पाउडर रूपों को सबसे अधिक प्रभावशाली बनाने के लिए सस्ते फिलर्स से और फुलविक एसिड से नकली शिलाजीत बनाया जाता है जो अच्छे असर के बदले उल्टा असर कर देता है।

शिलाजीत के फायदे

  • शिलाजीत शारीरिक शक्ति को बढ़ाता है, इसके सेवन से बूढ़े इंसान में भी 20 वर्ष के जवान की तरह ताकत आ जाती है। शिलाजीत के फायदों को जानने से पहले आपको यह जानना जरूरी है कि आखिर शिलाजीत क्या है? प्राचीन वैदिक ग्रथों के अनुसार पत्थर से शिलाजीत बनता है। गर्मियों में सूर्य की गर्मी से पहाड़ों की चट्टानों के धातु पिघलने लगती है वह शिलाजीत कहा जाता है। यह तारकोल की तरह गाढ़ा और काला होता है। 
  • शिलाजीत का स्वाद में कसैल, गर्म और ज्यादा कडवा होता है। इसमें से गोमूत्र की तरह की गंध आती है। शिलाजीत चार प्रकार का होता है। स्वर्ण, रजत, लौह और ताम्र। शिलाजीत का सेवन सुबह एक गिलास पानी मे मक्का के दाने या एक चुटकी के बराबर घोल कर पीने से नीचे बताये गए फायदे आपको मिलेंगे, आइये जाने इससे होने वाले फ़ायदो के बारे में…

Natural Shilajit | Order now Online | COD Available : https://allayurved.com/products/natural-shilajit

शिलाजीत के फ़ायदे 

  1. शारीरिक शक्ति : शिलाजीत का सबसे पहला और अहम फायदा यह है कि यह पुरूषों की शारीरिक क्षमता को बढ़ाता है। शिलाजीत का सेवन करते हुए आपको मिर्च मसाले, खटाई और अधिक नमक के सेवन से परहेज करना है।
  1. तनाव की समस्या : शिलाजीत का सेवन करने से तनाव को पैदा करने वाले हार्मोन्स संतुलित हो जाते हैं जिससे इंसान को टेंशन की समस्या नहीं होती है।
  2. शरीर में उर्जा बढ़ाएँ : तुरंत उर्जा देता है शिलाजीत। इसमें अधिक मौजूद विटामिन और प्रोटीन की वजह से शरीर में उर्जा बढ़ जाती है।
  3. हड्डियों के रोग में : शिलाजीत खाने से हड्डियों की मुख्य बीमारियां जैसे जोड़ों का दर्द और गठिया की समस्या दूर होने के साथ हड्डियां मजबूत बनती हैं।
  4. ब्लडप्रेशर में : बल्डप्रेशर को सामान्य किया जा सकता है शिलाजीत के इस्तेमाल करने से। यह शरीर में खून को साफ करके नसों में रक्तसंचार को ठीक करता है।
  1. बूढ़ा होने से बचाता है : उम्र बढ़ने के साथ ही चेहरे और शरीर की त्वचा झुर्रीदार होने लगती है। ऐसे में सफेद मसूली, अश्वगंधा और शिलाजीत को मिलाकर बनाई गई दवा शरीर को फिर से जवां बनाने का काम करती है।
  2. डायबिटीज के रोग में : शिलाजीत मधुमेह से ग्रसित लोगों के लिए बेहद फायदेमंद औषधि है। एक चम्मच त्रिफला चूर्ण और एक चम्मच शहद को दो रत्ती शिलाजीत के साथ खाने से मधुमेह ठीक हो जाता है।
  3. बढ़ाए दिमाग की क्षमता को : रोज एक चम्मच मक्खन के साथ शिलाजीत का सेवन करने से दिमाग की क्षमता बढ़ती है। शिलाजीत न केवल शरीर की ताकत को बढ़ाता है यह दिमाग को भी तेज करता है।
  1. दिल की बीमारी में शिलाजीत : दिल की सेहत के लिए बहुत ही अच्छी औषधि है शिलाजीत। यह उच्च रक्तचाप की समस्या को भी ठीक करता है।
  2. सूजन में शिलाजीत : यदि गठिया या सूजन की समस्या हो रही हो तो वे शिलाजीत का सेवन करें आपको राहत मिलेगी।
  3. कमजोर पाचनतंत्र : जब पाचनतंत्र कमजोर होता है तब इंसान के शरीर को कई बीमारियां लगने लगती है। शिलाजीत खाने से पाचनतंत्र मजबूत और स्वस्थ बनता है।
  4. किड़नी की परेशानी : पैनक्रियाज और किड़नी की समस्या को भी ठीक करता है शिलाजीत। क्योंकि शिलाजीत शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को ठीक रखता है। 
  1. कमजोर दिमाग : दिमाग की कमजोरी को दूर करने लिए शिलाजीत का सेवन करें। दूध और शहद के साथ शिलाजीत को सुबह सूर्य उगने से पहले सेवन करना चाहिए।
  2. शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना : शरीर की कमजोरी दूर करना और बीमारियों से लड़ने में रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना शिलाजीत के सेवन से होता है। दूध के साथ शुबह शाम शिलाजीत को खाने से इंसान बीमार नहीं पड़ता है।

Share:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Content is protected !!