fbpx

तांबे के बर्तन में दही अमृत नहीं जहर समान

  • यह बात हम सभी जानते हैं तांबे के बर्तन में पानी पिने से कई फायदे होते हैं। लेकिन तांबे के बर्तन में दही रखना जहर से कम नहीं हैं। जी हाँ तांबे के बर्तन में रखा दही हमारे शरीर को नुक्सान पहुँचा सकता हैं। कैसे? आईये हम आपको बताते हैं
  • वैसे तो दही में बहुत से जरूरी पोषक तत्व पाए जाते हैं जैसे कैल्शियम,विटामिन डी,विटामिन ए ,विटामािन ,पोटेशियम,कोलेस्ट्रॉल और मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में होते हैं। लेकिन अगर यही तत्व जब तांबे के संपर्क में आते हैं तो लाभ की जगह हमें हानि पहुंचाते हैं और इसी वजह से इन तत्वों का शरीर पर गलत और उल्टा असर पड़ता है।
  • तांबे के बर्तन में खट्टी चीजें और दूध को रखने से यह चीजें कॉपर से रिएक्ट करके फूड प्वॉयजनिंग का काम करती हैं। इससे डायरिया,पेट दर्द, डायरिया और उल्टी की समस्या हो सकती है। पानी के अलावा और फल या फिर और कोई भी खाने की चीज को तांबे के बर्तन में नहीं रखना चाहिए।
  • पानी को तांबे के बर्तन में इसलिए रखा जाता हैं क्योकि इसमें किसी भी तरह का कोई पोषक तत्व नहीं होता। यह जिस चीज के संपर्क में आता है वैसे ही गुणों को अपना लेता है। तांबे के बर्तन में रखा पानी पीनेे से शरीर में कॉपर की कमी दूर हो जाती हैं।
  • इसलिए याद रखे कि पानी पीने के अलावा और किसी भी चीज के लिए तांबे का उपयोग न करें।
loading...
Share:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Content is protected !!